दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय,
भारत सरकार

मुख पृष्ठ >> राष्ट्रीय पुरस्कार

राष्ट्रीय पुरस्कार

National award1

विकलांग व्‍यक्ति सशक्‍तीकरण के लिए राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार योजना

विकलांग व्‍यक्ति सशक्‍तीकरण एक अंतर्विषयक प्रक्रिया है, जो विभिन्‍न पहलूओं को कवर करती है, नामत:, रोकथाम, शीघ्र पता लगाना, अंतर्क्षेप, शिक्षा, व्यावसायिक प्रशिक्षण, पुनर्वास और सामाजिक एकीकरण इत्‍यादि। संसाधनों के अलावा इसके लिए सशक्‍तीकरण प्रक्रिया में शामिल व्‍यक्तियों एवं संस्‍थाओं के स‍मर्पित प्रयासों की आवश्‍यकता होती है। उनके प्रयासो को सराहने के लिए और अन्‍य लोगो को इस क्षेत्र में उत्‍कृष्‍टता हासिल करने हेतु जी-जान लगाने हेतु प्रोत्‍साहित करने के लिए, सर्वाधिक कुशल/उत्‍कृष्‍ट विकलांग कर्मचारियों, सर्वश्रेष्‍ठ नियोक्‍ताओं, सर्वश्रेष्‍ठ उत्‍कृष्‍ट प्रौद्योगिकीय नव उत्‍पाद और लागत प्रभावी प्रौद्योगिकी प्रदान करने के लिए नवोत्‍पाद का अनुकूलन के लिए पृथक पुरस्‍कारों से सम्‍मानित किया जाता है। विकलांग व्‍यक्तियों के लिए बाधा रहित परिवेश सृजित करने हेतु सरकारी क्षेत्र, सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों और निजी उद्यमों को, विकलांगता पुनर्वास के क्षेत्र में सर्वश्रेष्‍ठ जिला, राष्‍ट्रीय न्‍यास का सर्वश्रेष्‍ठ स्‍थानीय स्‍तर समिति और राष्‍ट्रीय विकलांग व्‍यक्ति वित्‍त एवं विकास निगम के सर्वश्रेष्‍ठ राज्‍य चेनलाइजिंग एजेंसी (एससीए) को भी पुरस्‍कार दिए जाते हैं। विकलांग महिला के नियोजन, विशेषकर, ग्रामीण क्षेत्र के और स्‍वनियोजित महिलाओं को प्राथमिकता दी जाती है।

अंतिम नवीनीकृत : 23-09-2016

अभिलेखागार